प्रेस क्लब मंगलौर के पत्रकारों को किया सम्मानित

मंगलौर
कोरोना काल के चलते 30 मई को मनाया जाने वाले पत्रकारिता दिवस को रविवार को पूर्व प्रधान व समाजसेवी गाधारोना की ओर से भव्य रूप में मनाया गया। इस दौरान पत्रकारों का सम्मान करते हुए उन्हें स्मृतिचिन्ह भेट किए। इसके साथ ही जो पत्रकार कोरोना काल मे दुनिया को अलविदा कह चुके है,उनको याद किया गया
आपको बता दें कि मंगलौर क्षेत्र के गधारोना में पूर्व प्रधान प्रेमगिरि ने पत्रकार पुलिस सम्मान सम्मेलन का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में अनेकों पत्रकारों को सम्मानित किया गया। वहीं मंगलौर व आसपास देहात क्षेत्र के पत्रकारो भी इसमें बढ़ चढ़कर शामिल हुए। सम्मान समारोह में प्रेम गिरी ने कहा कि पत्रकार समाज का आईना है तथा अपनी लेखनी से सरकार और समाज तक सही और सत्यता पर आधारित जानकारी पहुंचाने का कार्य करता है। हमें पत्रकारों की कोरोना माहमारी में दी गई सेवाओं को भी नहीं भूलना चाहिए। उनके द्वारा कार्यक्रम में आए पत्रकारों को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया। कोरोना काल में सरकार की गाइडलाइन्स का विशेष ध्यान रख यह कार्यक्रम का आयोजन पत्रकारिता दिवस पर किया जाना था पर कोरोनाकाल के चलते उस समय ये कार्यक्रम आयोजित नही हो पाया था इसलिए रविवार इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। उंन्होने कहा कि पत्रकारों को एकजुट होकर कार्य करना चाहिए। इस दौरान एक गोष्टी का आयोजन भी हुआ जिसमें पत्रकारिता को लेकर वक्ताओं ने अपने अपने विचार रखे। वही कोरोना काल मे अपनी जान की परवाह किये बगैर मित्र पुलिस ने लोगो की मदद के लिए अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया। जिस तरह उतरकर समाज का आईना है तो उसी प्रकार समाज की भलाई के लिए 24 घण्टे ड्यूटी निभा रहे है , इस कोरोना काल मे मित्र पुलिस ने ऐसी स्थिति में भूखो को खाना, व मरीजो को ऑक्सीजन मुहैया कराई जब सरकारी मशीनरी पूरी तरह से फैल हो गई थी। इस कार्यक्रम में प्रेस क्लब मंगलौर सरंक्षक जुबैर काज़मी अध्यक्ष अकील अहमद, उपाध्यक्ष शमीम अहमद, महांमत्री राहुल सैनी, सचिव अनिल सैनी, संगठन मंत्री डॉ अरशद, नीटू कुमार, अनुज सैनी, नरेंद्र कुमार, मो0 अशरफ, मयूर चौधरी, सलमान मालिक, रोहित राणा, श्याम सुंदर, आदि लोग शामिल थे।