घाड़ क्षेत्र को विकास नहीं झूठा विश्वास दिलाती रही भगवानपुर कांग्रेस विधायक

दूसरी विधानसभा के उमेश कुमार भगवानपुर मे विकास करा सकते है तो विधायक ममता राकेश क्यों नहीं ?

(अकरम राव)

अँधेरी नगरी चौपट राजा टके शेर भाजी टके शेर खाजा ये दोहा सटीक बैठता है भगवानपुर की राजनीति के उन राजाओं पर जो सिर्फ झूठे वादों से जनता का पेट भरते आये है आपको बतादे भगवानपुर विधानसभा के घाड़ क्षेत्र को खानपुर विधायक ने खुशियों को एक बड़ी सौगात दी है कई सालों से मौजूदा कांग्रेस विधायक विधायक ममता राकेश के राज मे जर्ज़र हालत मे पड़ी घाड़ क्षेत्र को जोड़ने वाली सड़क को दूसरी विधानसभा सभा के निर्दलीय विधायक उमेश कुमार शर्मा ने मानो कुछ दिनों मे ही टेंडर पास करा दिया अब जल्द ही सड़क का निर्माण निर्दलीय विधायक के कर कमलो द्वारा कराया जायेगा
दरअसल पिछले कई सालों से कांग्रेस विधायक घाड़ क्षेत्र की भोली भाली जनता के साथ विपक्ष सरकार का विकास ना कराने का झूठा बहाना बनाकर उन्हें विश्वास दिलाती आयी और भोली भाली जनता कांग्रेस विधायक पर अंधबगतों की तरह विश्वास करती आयी मगर उन्हें क्या पता था भगवानपुर कांग्रेस विधायक इतनी कमजोर है की खानपुर विधानसभा से आये निर्दलीय विधायक भगवानपुर विधायक के गढ़ मे आकर कमजोर विधायक से ना होने वाले विकास कार्यों पर अपनी मोहर लगाकर सुर्खिया बटोर ले गये
पूरा मामला भगवानपुर सिकरोढा मार्ग का है जो वर्षो से गड्ढों मे तब्दील था जहाँ आये दिन कोई ना कोई हादसा होता रहता था स्कूली बच्चों ने कुछ दिन पहले कांग्रेस विधायक के खिलाफ जमकर विरोध किया था जिसकी पत्रकार अकरम राव द्वारा खबर को प्रमुखता से दिखाया गया जहाँ उसका असर अब देखने को मिला ज़ब एक निर्दलीय विधायक ने उस काम को अंजाम दिया और सड़क के प्रस्ताव को पास करा दिया और कांग्रेस विधायक देखती की देखती ही रह गई
दरअसल भगवानपुर विधानसभा की आवाम कांग्रेस विधायक से जवाब मांगने लगी है की ऐसी कांग्रेस विधायक की नश है जो निर्दलीय विधायक के हाथो मे है जो दूसरी विधानसभा से आये विधायक का अपनी विधानसभा मे विरोध तक नहीं कर सकती सवाल बड़ा अजीब है मगर सवाल मे सच्चाई है